0
4
DAY(S)
:
0
6
HOUR(S)
:
0
9
MIN(S)
ADVERTISEMENT

Budget 2024: आयुष्‍मान भारत पर बड़ी घोषणा कर सकती है सरकार, हेल्‍थ कवरेज बढ़ा कर ₹10 लाख करने पर विचार

सरकार आने वाले 3 साल के दौरान लाभार्थियों की संख्या भी दोगुनी करने पर गंभीरता से विचार कर रही है.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी02:27 PM IST, 08 Jul 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

Budget 2024 Expectations: स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं को लेकर आगामी बजट (Budget 2024) में केंद्र सरकार आम लोगों को बड़ा तोहफा दे सकती है. आयुष्‍मान भारत (Ayushman Bharat) के तहत लोगों को मिलने वाले इंश्‍योरेंस कवरेज को 5 लाख से बढ़ा कर दोगुना यानी 10 लाख रुपये/वर्ष किया जा सकता है. इसके साथ ही लाभार्थियों की संख्‍या भी दोगुनी करने पर विचार हो रहा है.

समाचार एजेंसी PTI की रिपोर्ट के अनुसार, केंद्र सरकार, आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (AB:PM-JAY) के लाभार्थियों के इंश्योरेंस कवरेज को दोगुना बढ़ाकर 10 लाख रुपये प्रति वर्ष करने की तैयारी कर रही है. साथ ही आने वाले 3 साल के दौरान लाभार्थियों की संख्या भी दोगुनी करने पर गंभीरता से विचार कर रही है.

70 साल से अधिक उम्र के सभी बुजुर्गों को इसके दायरे में लाने की घोषणा सरकार पहले ही कर चुकी है.

₹12 हजार करोड़ का अतिरिक्त खर्च

अगर प्रस्तावों को मंजूरी दी जाती है तो राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के अनुमान के अनुसार, सरकारी खजाने पर प्रति वर्ष 12,076 करोड़ रुपये का अतिरिक्त खर्च आएगा.

आधिकारिक सूत्रों ने PTI से कहा, 'मेडिकल खर्च, बहुत सारे परिवारों को कर्ज के दलदल में धकेलने वाले बड़े कारणों में से एक है. ऐसे में अगले तीन वर्षों में AB:PM-JAY के तहत लाभार्थियों की संख्या दोगुनी करने पर चर्चा हो रही है, जिसे लागू किया गया तो देश की दो-तिहाई से अधिक आबादी को स्वास्थ्य कवर मिलेगा.'

अधिकारियों ने कहा, 'कवरेज राशि की सीमा को मौजूदा 5 लाख रुपये से दोगुना कर 10 लाख रुपये करने के प्रस्ताव को अंतिम रूप देने पर भी विचार-विमर्श चल रहा है.' इस महीने के अंत में पेश होने वाले केंद्रीय बजट में इन प्रस्तावों या इसके कुछ हिस्सों की घोषणा की जा सकती है.

अंतरिम बजट 2024 में बढ़ा था आवंटन

अंतरिम बजट 2024 में सरकार ने 'AB: PM-JAY' के लिए आवंटन बढ़ाकर 7,200 करोड़ रुपये कर दिया जो 12 करोड़ परिवारों को अस्पताल में भर्ती के लिए हर साल 5 लाख रुपये का हेल्‍थ कवर प्रदान करता है. आयुष्मान भारत हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर मिशन (PM-ABHIM) के लिए 646 करोड़ रुपये आवंटित किए गए.

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने 27 जून को संसद की संयुक्त बैठक में अपने अभिभाषण में कहा था कि 70 वर्ष से अधिक उम्र के सभी बुजुर्गों को भी अब आयुष्मान भारत योजना के तहत कवर किया जाएगा और मुफ्त इलाज का लाभ मिलेगा.

5 करोड़ तक बढ़ जाएंगे लाभार्थी

एक अन्य अ‍ाधिकारिक सूत्र ने PTI से कहा कि 70 वर्ष से अधिक उम्र वालों को मिलाकर इस योजना के लाभार्थियों की संख्या लगभग चार-पांच करोड़ बढ़ जाएगी. AB: PM-JAY के लिए 2018 में 5 लाख रुपये की सीमा तय की गई थी. कवर राशि को दोगुना करने का उद्देश्य ट्रांसप्‍लांट, कैंसर जैसे बेहद महंगे ट्रीटमेंट के मामलों में परिवारों को राहत प्रदान करना है.

नीति आयोग ने दिया था सुझाव

नीति आयोग की रिपोर्ट के अनुसार, देश की 30% आबादी हेल्‍थ इंश्‍योरेंस से वंचित है. आयोग ने अक्टूबर 2021 में प्रकाशित 'भारत के मिसिंग मिडिल के लिए हेल्थ इंश्योरेंस' शीर्षक वाली अपनी रिपोर्ट में इस योजना का विस्तार करने का सुझाव दिया था. इसमें कहा गया था कि करीब 30% आबादी हेल्थ इंश्योरेंस से वंचित है.

30%
आबादी स्वास्थ्य कवर से वंचित, इन्‍हें ही रिपोर्ट में 'मिसिंग मिडिल' कहा गया है.

आयोग के मुताबिक, करीब 20% आबादी सामाजिक हेल्थ इंश्योरेंस और निजी स्वैच्छिक हेल्थ इंश्योरेंस के माध्यम से कवर की जाती है, जो मुख्य रूप से हाई इनकम क्‍लास फैमिलीज के लिए तैयार की गई है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि 30% आबादी हेल्थ इंश्योरेंस से वंचित है. PM-JAY में मौजूदा कवरेज अंतराल और योजनाओं के बीच ओवरलैप के कारण स्वास्थ्य कवर से वंचित वास्तविक आबादी ज्‍यादा है.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT