ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

Zee Ent. के पुनीत गोयनका ने SEBI के साथ 50 लाख में सेटल किया मामला

ये मामला सितंबर 2019 से दिसंबर 2020 का है, जब ZEEL ने Zeeplex की 'pay-per-view' सर्विस को लॉन्च करने का ऐलान किया था.
NDTV Profit हिंदीमोहम्मद हामिद
NDTV Profit हिंदी06:23 PM IST, 13 Apr 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

जी एंटरटेनमेंट (Zee Entertainment) के CEO और मैनेजिंग डायरेक्टर पुनीत गोयनका ने मार्केट रेगुलेटर SEBI के साथ इनसाइडर ट्रेडिंग नियमों के उल्लंघन के एक मामले का निपटारा कर लिया है. SEBI के साथ इस सेटलमेंट के लिए पुनीत गोयनका ने 50.7 लाख रुपये का भुगतान किया है.

क्या था मामला

ये मामला सितंबर 2019 से दिसंबर 2020 का है, जब ZEEL ने Zeeplex की 'pay-per-view' सर्विस को लॉन्च करने का ऐलान किया था. पुनीत गोयनका के ऊपर इनसाइडर ट्रेडिंग के नियमों के उल्लंघन का आरोप लगा था.

SEBI ने अपने आदेश में कहा है कि हमारी जांच से ये निकलकर आया कि कोविड प्रतिबंधों के बीच Zeeplex का लॉन्च कंपनी के लिए एक अच्छा कदम था. और इसलिए ये अनपब्लिश्ड प्राइस सेंसिटिव जानकारी (UPSI) की परिभाषा के तहत आता है.

यह आरोप लगाया गया था कि गोयनका UPSI की पहचान करने के लिए कंपनी के अंदर पर्याप्त इंटरनल कंट्रोल को स्थापित करने में नाकाम रहे और इस जानकारी को UPSI के रूप में पहचान कराने में विफल रहे.

UPSI का क्या मतलब

अनपबलिश्ड प्राइस सेंसिटिव जानकारी (UPSI) का मतलब होता है कि ऐसी जानकारी जो कंपनी या उसकी सिक्योरिटीज, सीधे तौर पर या परोक्ष रूप से आमतौर पर मौजूद नहीं है और आमतौर पर मौजूद होने से शेयर की कीमतों को प्रभावित कर सकती है.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT