ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

मैक्रोटेक डेवलपर्स मार्च तक 11,000 फ्लैट की आपूर्ति करेगीः सीईओ

मैक्रोटेक डेवलपर्स लिमिटेड हर तिमाही में अपने कर्ज बोझ में 500-800 करोड़ रुपये की कटौती करने का लक्ष्य लेकर चल रही है.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit Desk
NDTV Profit हिंदी11:50 AM IST, 12 Feb 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

रियल एस्टेट कंपनी मैक्रोटेक डेवलपर्स लिमिटेड ने सभी परियोजनाओं में निर्माण कार्य तेज होने और मांग अच्छी रहने से चालू वित्त वर्ष में करीब 11,000 फ्लैट की आपूर्ति की उम्मीद जताई है. कंपनी के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अभिषेक लोढ़ा ने कहा कि पिछले वित्त वर्ष में की गई 7,000 फ्लैट की आपूर्ति की तुलना में वित्त वर्ष 2022-23 में कंपनी को करीब 11,000 फ्लैट की आपूर्ति करने की उम्मीद है. कंपनी लोढ़ा ब्रांड के तहत संपत्तियों की बिक्री करती है.

 कंपनी के सीईओ अभिषेक लोढ़ा ने कहा, 'आवासीय ऋण पर ब्याज दर बढ़ने के बावजूद बिक्री में तेजी कायम रहने की हमें उम्मीद है. इसके साथ ही बाजार धारणा मजबूत होने से हमें घरों की बिक्री बढ़ने की उम्मीद है.' उन्होंने कहा कि कंपनी तिमाही में करीब 3,000 फ्लैट की बिक्री कर रही है और मार्च तिमाही में भी यह सिलसिला कायम रहने की संभावना है. उन्होंने कहा, 'इस वित्त वर्ष में हम 10,000 से लेकर 11,000 फ्लैट की आपूर्ति करेंगे. यह महामारी से प्रभावित रहे वित्त वर्ष 2021-22 की तुलना में बड़ी वृद्धि है.'

अभिषेक लोढ़ा ने कहा कि इस वित्त वर्ष में घरों की बिक्री बुकिंग और कैश इनफ्लो अच्छा रहने से दिसंबर तिमाही में कर्ज में 753 करोड़ रुपये की कमी दर्ज की गई. मार्च तिमाही में इसमें करीब 1,000 करोड़ रुपये की कमी और होने की उम्मीद है.

उन्होंने कहा कि कंपनी हर तिमाही में अपने कर्ज बोझ में 500-800 करोड़ रुपये की कटौती करने का लक्ष्य लेकर चल रही है. उन्होंने कहा, 'हमें उम्मीद है कि वर्ष 2023 का अंत होने तक हमारा कर्ज बोझ घटकर करीब 5,000 करोड़ रुपये रह जाएगा. यह दिसंबर तिमाही के अंत में करीब 8,000 करोड़ रुपये था.'

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
NDTV Profit हिंदी
लेखकNDTV Profit Desk
NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT