ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

अदाणी ग्रुप ने 'कॉपर ओर' सप्लाई की सुनिश्चित, 1.6 मिलियन टन 'ओर' खरीदने की डील पर किए दस्तखत

अदाणी नेचुरल रिसोर्सेज में चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर विनय प्रकाश ने कहा कि गुजरात के मुंद्रा में 1.2 बिलियन डॉलर की फैसिलिटी में कामकाज अगले महीने शुरू होगा.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी05:16 PM IST, 09 Feb 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

अदाणी ग्रुप (Adani Group) ने दुनिया के सबसे सिंगल लोकेशन स्मेलटर के लिए सालाना 1.6 मिलियन टन 'कॉपर ओर' खरीदने से जुड़ा कॉन्ट्रैक्ट साइन किया. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक अदाणी नेचुरल रिसोर्सेज में चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर विनय प्रकाश ने कहा कि गुजरात के मुंद्रा (Mundra Plant) में 1.2 बिलियन डॉलर की फैसिलिटी में कामकाज अगले महीने शुरू होगा.

मार्च 2029 तक कैपेसिटी 1 मिलियन टन करने की योजना

ऑपरेशंस की शुरुआत 50,000 टन से होगी. मार्च 2029 तक इसे बढ़ाकर 1 मिलियन टन कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि इस दशक के आखिर तक भारत में कॉपर की डिमांड दोगुनी होने की उम्मीद है जिसे पूरा करने के लिए कैपेसिटी को बढ़ाया जाएगा.

अदाणी एंटरप्राइजेज क्रिटिकल मिनरल्स में रिसोर्स सिक्योरिटी चाहती है. जनवरी 2023 में हिंडनबर्ग रिपोर्ट आने के बाद कंपनी के शेयर स्थिर हुए हैं. अब कंपनी कैपिटल खर्च की दोबारा शुरुआत कर रही है.

दूसरे रिफाइनर्स को घटाना पड़ सकता है उत्पादन

प्रकाश ने कहा कि 'ऊंची ऑपरेटिंग लागत और कम फीस का ये मतलब है कि स्मेलटर्स और रिफाइनर्स को उत्पादन घटाना पड़ सकता है. हमारा प्लांट कम लागत के साथ उत्पादन करेगा. इसके साथ ज्यादा मेटल रिकवरी होगी जिससे हमें बाजार में कड़ा मुकाबला करने में मदद मिलेगी.'

प्रकाश के मुताबिक इन डील्स में छोटी और लंबी अवधि के लिए व्यवस्था की गई है. उन्होंने सप्लायर्स के बारे में जानकारी नहीं दी. उन्होंने आगे कहा कि 'कॉपर ओर' की सप्लाई मध्य से लंबी अवधि में बढ़ने की उम्मीद है जब अफ्रीका और पेरू में ज्यादा माइनिंग प्रोजेक्ट्स की शुरुआत होती है.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT