ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

Byju’s का नया प्‍लान, अमेरिकी लर्निंग प्‍लेटफॉर्म्‍स को बेचने की तैयारी; फंड जुटाकर कर्ज चुकाएगी कंपनी!

कंपनी का ये प्‍लान कामयाब रहा तो सारा कर्ज चुकाने के बाद भी कारोबार का विस्‍तार करने के लिए पर्याप्‍त कैश बचेगा.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी11:13 AM IST, 12 Sep 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

दिग्गज एडटेक बायजू (Byju's) ने अपने कर्जदाताओं को 6 महीने के भीतर 1.2 बिलियन डॉलर का कर्ज चुकाने का नया प्रस्ताव देकर चौंका दिया है. अब खबर है कि कंपनी ने अपनी कुछ यूनिट्स को बेचने का प्‍लान बनाया है. ऐसा कर के कंपनी 1 बिलियन डॉलर से ज्‍यादा फंड जुटाना चाह रही है. ये प्‍लान बायजूज की व्‍यापक योजना का हिस्‍सा है.

ब्‍लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी US-बेस्‍ड बच्चों के डिजिटल रीडिंग प्लेटफॉर्म, एपिक और ग्रेट लर्निंग एजुकेशन को बेचने के लिए प्राइवेट इक्विटी फंड और रणनीतिक निवेशकों (Strategic Investors) के साथ बातचीत कर रही है.

कर्ज चुकाने के बाद भी बचेगा पर्याप्‍त कैश!

मामले की जानकारी रखने वाले लोगों के हवाले से ब्‍लूमबर्ग ने बताया है कि कंपनी अपनी बैलेंस शीट को मजबूत करने के लिए ऐसा कर रही है. नाम जाहिर न करने की शर्त पर कुछ लोगों ने बताया कि कंपनी का ये प्‍लान कामयाब रहा तो बायजू के फाउंडर बायजू रवींद्रन के पास सारा कर्ज चुकाने के बाद भी कारोबार का विस्‍तार करने के लिए पर्याप्‍त कैश बचेगा.

बायजू ने 2021 में किया था अधिग्रहण

बेंगलुरु स्थित कंपनी बायजू ने 2021 में कैश और स्‍टॉक डील में एपिक को करीब 500 मिलियन डॉलर में, जबकि ग्रेट लर्निंग, प्रोफेशनल ट्रेनिंग और हायर एजुकेशन प्‍लेटफॉर्म को 600 मिलियन डॉलर में खरीदा था. जानकारों ने कहा कि बायजूज इनमें विनिवेश के जरिये एक बिलियन डॉलर से अधिक का फंड जुटाने की कोशिश कर रहा है. बायजूज के प्रवक्ता ने टिप्पणी के अनुरोध का तुरंत जवाब नहीं दिया है.

कर्ज चुकाने के नए प्रस्‍ताव से चाैंकाया

इसके पहले बायजूज ने 6 महीने से भी कम समय में लेंडर्स को 1.2 बिलियन डॉलर के टर्म लोन के पेमेंट का नया प्रस्‍ताव देकर चौंका दिया. जानकारों ने कहा कि यूनिट्स की बिक्री से होने वाली आय का एक बड़ा हिस्सा लोन पेमेंट के लिए इस्तेमाल किया जाएगा.

अर्निंग रिपोर्ट तैयार करने पर तेजी से काम!

मार्च 2022 को समाप्त होने वाले वित्तीय वर्ष के लिए 30 सितंबर तक और उसके बाद के वित्त वर्ष के लिए दिसंबर तक ऑडिट किए गए खातों को अंतिम रूप देने पर भी कंपनी काम कर रही है. अर्निंग रिपोर्ट दाखिल करने के बाद कंपनी अपना कारोबार बढ़ाने के लिए नई इक्विटी जुटाने की कोशिश करेगी.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT