ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

इंडिया रेटिंग्स ने अदाणी पावर की बैंक सुविधाओं को किया अपग्रेड, आउटलुक स्टेबल

इंडिया रेटिंग्स के मुताबिक मौजूदा वित्त वर्ष के पहले नौ महीनों में पिछले रेगुलेटरी क्लेम मिलने से अदाणी पावर के कर्ज में बड़ी गिरावट आई.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी05:36 PM IST, 08 Feb 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च (India Ratings) ने गुरुवार को अदाणी पावर (Adani Power) की बैंक सुविधाओं को अपग्रेड करके 'IND AA-' और स्टेबल आउटलुक कर दिया है. रेटिंग एजेंसी ने एक बयान में कहा कि इसे बढ़ाने के पीछे वजह लोहारा कोल ब्लॉक से जुड़े अहम रेगुलेटरी मुद्दे हैं.

इंडिया रेटिंग्स ने मु्ंद्रा प्लांट से हरियाणा के लिए सप्लीमेंट्री पावर पर्चेज एग्रीमेंट (PPA) पर हस्ताक्षर, गोड्डा प्लांट में कमर्शियल ऑपरेशंस शुरू होना और पर्याप्त कोयले की उपलब्धता को इस अपग्रेड की वजह बताया है.

कंपनी जुटाएगी 130 बिलियन डॉलर का EBITDA

इंडिया रेटिंग्स के मुताबिक मौजूदा वित्त वर्ष के पहले नौ महीनों में रेगुलेटरी क्लेम मिलने से अदाणी पावर के कर्ज में बड़ी गिरावट आई. अब कंपनी 130 बिलियन रुपये का EBITDA जनरेट कर सकती है.

अदाणी पावर अब देश में सबसे बड़ी निजी पावर प्रोड्यूसर है. इसकी ऑपरेशनल कैपेसिटी 15.2 गीगावॉट है, जिसमें से 81% लंबी और मध्य अवधि के PPAs हैं. कंपनी को मार्च और अप्रैल 2023 में सुप्रीम कोर्ट आदेशों के बाद रेगुलेटरी बकाये की बड़ी राशि मिली. इसे 125.6 अरब रुपये के पर्पेचुअल और संबंधित कर्ज को चुकाने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा.

कंपनी पूरे कर्ज की री-फाइनेंसिंग करेगी

इंडिया रेटिंग्स के मुताबिक इससे अदाणी पावर का ग्रॉस लेवरेज 2.5–3 गुना से नीचे रहेगा. जो इससे पहले के अनुमान से बेहतर है. इसके अलावा कंपनी पूरे कर्ज की री-फाइनेंसिंग करने का विचार कर रही है.

कंपनी एसेट लेवल फाइनेंसिंग से कॉरपोरेट लेवल फाइनेंसिंग की तरफ जाना चाहती है जिससे कलेक्टिव कैश फ्लो का बेहतर इस्तेमाल किया जा सके.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT