ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

EV सेक्टर में बड़ा सौदा, JSW ग्रुप ओडिशा में करेगा $5 बिलियन का निवेश

कंपनी यहां पर 40,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. इसके साथ ही, प्रदेश में 11,000 नई नौकरियां पैदा होंगी.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी04:13 PM IST, 10 Feb 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

JSW ग्रुप ने ओडिशा सरकार के साथ एग्रीमेंट किया है. कंपनी ओडिशा के कटक और पारादीप में इंटिग्रेटेड EV और EV बैटरी मैन्युफैक्चरिंग प्रोजेक्ट पर काम करेगी.

कंपनी यहां पर 40,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. इसके साथ ही, प्रदेश में 11,000 नई नौकरियां पैदा होंगी. कंपनी माइक्रो, स्मॉल और मीडियम एंटरप्राइज में डेवलपमेंट पर निवेश करेगी. कंपनी प्रदेश में नए ऑटो कंपोनेंट सप्लाई चेन और सर्विस सेंटर खोलेगी.

JSW ग्रुप चेयरमैन सज्जन जिंदल ने कहा, इस नई पार्टनरशिप से JSW ग्रुप और ओडिशा के बीच संबंध बढ़ेंगे.

जिंदल ने कहा 'ओडिशा इकोसिस्टम में ऑपरेशंस इंटिग्रेट करने से, हम नए संबंध निर्माण कर सकेंगे जिससे सभी शेयरधारकों को फायदा होगा'.

ओडिशा में EV का प्लान JSW ग्रुप और चीन के SAIC मोटर कंपनी के ज्वाइंट वेंचर (JV) के निर्माण के दो महीने के अंदर आया है. इस EV इकोसिस्टम का उद्देश्य ग्रीन मोबिलिटी पर फोकस होगा, जो दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा ऑटो मार्केट है.

इस ज्वाइंट वेंचर में JSW ग्रुप की 35% हिस्सेदारी है.

SAIC की MG मोटर इंडिया के जरिए में भारत में मौजूदगी है लेकिन कंपनी चीनी निवेश पर भारत की ओर से प्रतिबंधों से गुजरने के बाद अपनी ग्रोथ पर फोकस कर रही है. JSW ग्रुप के साथ नया ज्वाइंट वेंचर बनाने के बाद कंपनी लोकल ऑटो पार्ट्स की सोर्सिंग के साथ MG मोटर की ग्रोथ पर फोकस कर रही है. कंपनी अपनी प्रोडक्शन क्षमता और चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर की ग्रोथ पर फोकस कर रही है.

प्रोजेक्ट के बारे में

कटक में प्रोजेक्ट: JSW ग्रुप सभी तरह के पैसेंजर व कमर्शियल इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की इंटिग्रेटेड मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी को सेटअप करेगी. 50 GWhr बैटरी प्लांट- जो मोबिलिटी और स्टोरेज सॉल्यूशंस के लिए इस्तेमाल किया जाना है, सेटअप किया जाएगा. JSW ग्रुप के मुताबिक, ऑटो सेक्टर में ये दुनिया का सबसे बड़ा सिंगल लोकेशन प्रोजेक्ट होगा.

2 फेज वाले इस प्रोजेक्ट का आउटले 25,000 करोड़ रुपये का होगा और इससे 4,000 नई नौकरियां जेनरेट होंगी.

पारादीप में प्रोजेक्ट: JSW ग्रुप यहां पर पावरट्रेन इन-हाउस के लिए EV कंपोनेंट प्लांट का निर्माण करेगी. प्रदेश में वेंडर इकोसिस्टम डेवलप किया जाएगा जिसमें कई कंपोनेंट तैयार किए जाएंगे. 60,000 टन सालाना क्षमता वाली लीथियम-आयन रिफाइनरी का निर्माण किया जाएगा, इसके साथ 10 लाख टन कॉपर स्मेलटर का निर्माण भी पारादीप कॉम्प्लेक्स में तैयार किया जाएगा. तीसरे फेज का आउटले 15,000 करोड़ रुपये का होगा जिससे 7,000 नई नौकरियां पैदा होंगी.

ओडिशा फैसिलिटी में, JSW ग्रुप कुल 1,00,000 नए इलेक्ट्रिक ट्रक और बस मैन्युफैक्चर करेगा. वहीं, इसके साथ 3,00,000 इलेक्ट्रिक कार निर्माण की जाएंगी. इसके साथ ही कॉम्प्लेक्स में एक नई R&D फैसिलिटी का निर्माण किया जाएगा.

मुख्यमंत्री ने क्या कहा?

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा, 'हम न्यू-एज सेक्टर्स में मौजूदा अवसरों पर फोकस कर रहे हैं, जिससे ओडिशा के लोगों को हाई स्किल्ड जॉब्स मिलें'.

उन्होंने कहा, 'JSW ग्रुप के साथ मिलकर हम एक स्टेज तैयार कर रहे हैं, जहां इनोवेशन के जरिए इंडस्ट्रियल ग्रोथ हो, जिससे ओडिशा के युवाओं को स्किल्स और जॉब्स मिलें और प्रदेश का इकोनॉमिक डेवलपमेंट हो'.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT