ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

Ola का वैल्यूएशन घटा, Vanguard ने $2 बिलियन के नीचे लगाई कंपनी की कीमत

वैनगार्ड वर्ल्ड फंड और वैनगार्ड वैरिएबल इंश्योरेंस फंड्स के पास कुल मिलाकर कंपनी (Ola) के 1,83,355 शेयर हैं. वैल्यूएशन में ये कमी वैनगार्ड की इंटरनल बुक्स में रखी गई है.
NDTV Profit हिंदीऋषभ भटनागर
NDTV Profit हिंदी07:35 PM IST, 05 Feb 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

इन दिनों देश के स्टार्टअप्स की दुनिया के सितारों के गर्दिश के दिन चल रहे हैं. भारत-पे, बायजूज, पेटीएम के बाद अब ओला पर खतरा मंडराने लगा है. अमेरिका की एसेट मैनेजमेंट कंपनी वैनगार्ड इंक (Vanguard Inc.) ने राइडशेयरिंग कंपनी ओला (Ola) का वैल्यूएशन घटाकर $2 बिलियन से नीचे कर दिया. लगातार तीसरी बार वैनगार्ड ने कंपनी का वैल्यूएशन कम किया है.

NDTV Profit को मिली जानकारी के मुताबिक, ओला की पेरेंट कंपनी ANI टेक्नोलॉजीज प्राइवेट में वैनगार्ड के पास 1% से कम हिस्सेदारी है.

वैनगार्ड वर्ल्ड फंड (Vanguard World Fund) और वैनगार्ड वैरिएबल इंश्योरेंस फंड्स (Vanguard Variable Insurance Funds) के पास कुल मिलाकर कंपनी के 1,83,355 शेयर हैं.

30 नवंबर 2023 तक, 1.6 लाख शेयर वैनगार्ड वर्ल्ड फंड के पास हैं, जिनका वैल्यूएशन कंपनी ने $13.26 मिलियन तय किया है. इसके मुताबिक, ओला का ओवरऑल वैल्यूएशन $1.8 बिलियन रह गया है, जो पहले $3.5 बिलियन था.

बता दें, कि आंकड़ों में ये कमी वैनगार्ड की इंटरनल बुक्स में रखी गई है.

ANI टेक्नोलॉजीज प्राइवेट ने भाविश अग्रवाल (Bhavish Aggarwal) के अपना पद छोड़ने के बाद हेमंत बख्शी (Hemant Bakshi) को कंपनी का CEO बनाया. अग्रवाल ने ये पद ऑपरेशंस की स्ट्रीमलाइनिंग करने के बाद बनाया था.

कंपनी 3 बिजनेस यूनिट को रीऑर्गनाइज कर रही है, मोबिलिटी, फाइनेंशियल सर्विसेज, लॉजिस्टिक्स और ई-कॉमर्स . इससे कंपनी फोकस्ड मैनेजमेंट, स्ट्रीमलाइन किए गए ऑपरेशन और अपनी फुर्ती पर फोकस कर रही है.

ओला ने जानकारी दी थी कि FY23 में कंपनी को मोबिलिटी बिजनेस में EBITDA लेवल पर मुनाफा हुआ था.

ANI टेक्नोलॉजीज के स्टैंडअलोन तिमाही नतीजों में ओला के मोबिलिटी सेगमेंट में 250 करोड़ रुपये का EBITDA दर्ज किया गया. कंपनी ने कहा, 'हम भारत के उन चुनिंदा कंज्यूमर इंटरनेट बिजनेस में शामिल हैं, जिन्हें इतना मुनाफा हुआ है'.

NDTV Profit के मुताबिक, FY22 में 1,220.2 करोड़ रुपये के मुकाबले FY23 में कंपनी की आय 1,987.5 करोड़ रुपये रही थी. इसके साथ ही कंपनी का घाटा 3,082 करोड़ रुपये से घटकर 1,082 करोड़ रुपये हो गया था.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT