ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

Zee-Sony Merger: NCLT ने सोनी को भेजा नोटिस, तीन हफ्ते में जवाब देने का निर्देश

जी एंटरटेनमेंट के शेयधारकों ने NCLT में सोनी के साथ मर्जर को लेकर याचिका दी थी. पिछले हफ्ते रेगुलेटरी मंजूरी के बावजूद सोनी ने मर्जर को रद्द कर दिया था.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी03:53 PM IST, 30 Jan 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) ने मंगलवार को जी एंटरटेनमेंट (Zee Entertainment) की याचिका को मंजूर कर लिया है. PTI की रिपोर्ट के मुताबिक जी एंटरटेनमेंट के शेयरधारकों ने सोनी (Sony) के साथ मर्जर को लेकर याचिका दी थी. पिछले हफ्ते तमाम रेगुलेटरी मंजूरियों के बावजूद मर्जर (Zee Sony Merger) को रद्द कर दिया गया था.

मैड मेन फिल्म वेंचर्स की याचिका पर नोटिस जारी

NCLT की मुंबई बेंच ने मैड मेन फिल्म वेंचर्स की याचिका पर नोटिस जारी किया है. मेड मेन फिल्म वेंचर्स, जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज (ZEEL) की शेयरधारक है. NCLT ने सोनी को नोटिस जारी करके उसे तीन हफ्ते के अंदर जवाब देने को कहा है.

मैड मेन फिल्म वेंचर्स ने मंगलवार को याचिका दायर करके दोनों ZEEL और सोनी को मर्जर को लागू करने की रिक्वेस्ट की थी. NCLT ने अगस्त 2023 में मर्जर को मंजूरी दी थी. ट्रिब्यूनल ने वकील की ओर से दी गई दलीलों पर सहमति नहीं जताई. उसने कहा कि NCLT की ओर से की दी गई मंजूरी शर्तों पर थी और ये अलग-अलग स्थितियों पर निर्भर करती थी. NCLT ने इस मामले में सुनवाई की अगली तारीख 12 मार्च तय की है.

सोनी ने तोड़ दी थी डील

इससे पहले 22 जनवरी 2024 को सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया (Sony Pictures Networks India Pvt.), जिसे अब कल्वर मैक्स एंटरटेनमेंट लिमिटेड कहा जाता है), ने जी एंटरटेनमेंट को डील तोड़ने से जुड़ा नोटिस भेजा था, जिसमें तय समय सीमा के भीतर डील पूरी नहीं होने के चलते अपना हाथ खींचने की जानकारी दी गई थी.

सोनी पिक्चर्स एंटरटेनमेंट की तरफ से जारी बयान के मुताबिक, 'कल्वर मैक्स एंटरटेनमेंट (CME) ने जी एंटरटेनमेंट को ZEEL और CME के ​​विलय के लिए 22 दिसंबर, 2021 के समझौते को खत्म करने का नोटिस जारी किया है. सोनी की ओर से जारी बयान के मुताबिक 'हालांकि हम मर्जर को-ऑपरेशन एग्रीमेंट के तहत आखिरी तारीख बढ़ाने के लिए चर्चा कर रहे थे, लेकिन हम 21 जनवरी की समय सीमा तक विस्तार पर सहमत नहीं हो सके. दो साल से ज्यादा की बातचीत के बाद, हम बेहद निराश हैं कि विलय की सभी शर्तें आखिरी तारीख तक पूरी नहीं हुईं.'

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT