ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

अदाणी ग्रुप पर FT की रिपोर्ट फिर बेअसर! अदाणी पावर, अदाणी पोर्ट्स सहित सभी शेयरों में बढ़त

Adani Group Stocks: अदाणी ग्रुप के शेयरों में आज की तेजी ने इस बात को साफ कर दिया कि फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट का निवेशकों पर कोई असर नहीं पड़ा है और सभी शेयर बाजार खुलने के बाद से ही अच्छी तेजी के साथ ट्रेड कर रहे हैं.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit Desk
NDTV Profit हिंदी01:17 PM IST, 10 Oct 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

Adani Group Stocks: अदाणी ग्रुप के शेयरों में आज जोरदार तेजी देखने को मिल रही है. लंदन के फाइनेंशियल टाइम्स ने अदाणी ग्रुप को निशाना बनाने के मकसद से जो रिपोर्ट छापी थी, वो एक बार फिर बेअसर साबित हुई है. सभी 10 लिस्टेड कंपनियों के शेयर 0.5% से 3.5% की तेजी के साथ ट्रेड कर रहे हैं.

मार्केट कैप 20,400 करोड़ रुपये बढ़ा

शेयरों में इस तेजी की वजह से अदाणी ग्रुप शेयरों का मार्केट कैप इंट्राडे में 20,400 करोड़ रुपये तक बढ़ गया. जिससे कुल मार्केट कैप 10.69 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंच गया.

अदाणी ग्रुप के सभी 10 शेयरों में तेजी

हालांकि सोमवार को अदाणी ग्रुप के शेयरों में गिरावट के चलते, मार्केट कैप में 34,000 करोड़ रुपये की कमी आई थी. इसमें भी अदाणी पावर का मार्केट कैप 9000 करोड़ रुपये घटा था, अदाणी पोर्ट का मार्केट कैप भी 8500 करोड़ रुपये कम हुआ था.

आज अदाणी पावर का मार्केट कैप में 4000 करोड़ रुपये से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है, जबकि अदाणी पोर्ट ने मार्केट कैप में करीब 5000 करोड़ रुपये जोड़े हैं, शेयर में इंट्राडे के दौरान 3% से ज्यादा तेजी देखने को मिली. अदाणी पावर का शेयर भी 2.4% की तेजी के साथ ट्रेड करता हुआ नजर आया है. अदाणी एंटरप्राइजेज, अंबुजा सीमेंट, अदाणी विल्मर, NDTV में 1-3% तक की तेजी है. इसके पहले शुक्रवार को भी अदाणी ग्रुप के शेयरों में अच्छी तेजी देखने को मिली थी.

FT की रिपोर्ट का असर नहीं

सोमवार को अदाणी ग्रुप को लेकर लंदन के फाइनेंशियल टाइम्स (Financial Times) ने एक बार फिर रिपोर्ट छापी, जिसका खंडन ग्रुप ने किया. अदाणी ग्रुप ने कहा कि फाइनेंशियल टाइम्स अपनी प्रस्तावित स्टोरी में कंपनी के खिलाफ पुराने और आधारहीन मामलों को रीसाइकिल कर ग्लोबल छवि और आर्थिक नुकसान पहुंचाने की फिर से तैयारी कर रहा है. FT दुर्भावनापूर्ण तरीके से ग्रुप के खिलाफ लगातार कैंपेन चला रहा है. ये अखबार जानबूझकर कोयला इंपोर्ट पर पुराने और आधारहीन आरोपों को रीसाइकिल कर रहा है. 'ग्रुप ने कहा कि 'फाइनेंशियल टाइम्स पत्रकारिता और पब्लिक इंट्रेस्ट का आड़ में निहित स्वार्थों को पूरा कर रहा है.'

अदाणी ग्रुप के शेयरों में आज की तेजी ने इस बात को साफ कर दिया कि फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट का निवेशकों पर कोई असर नहीं पड़ा है और सभी शेयर बाजार खुलने के बाद से ही अच्छी तेजी के साथ ट्रेड कर रहे हैं.

अदाणी ग्रुप ने आरोपों का किया खंडन

अदाणी ग्रुप ने BSE को दिए स्टेटमेंट में कहा कि 'फाइनेंशियल टाइम्स अपने पत्रकार डैन मैक्कर्म (Dan McCrum) के जरिए ग्रुप पर लगातार हमला किए जा रहा है. फाइनेंशियल टाइम्स ने इसके लिए OCCRP यानी ऑर्गेनाइज्ड क्राइम एंड करप्शन रिपोर्टिंग प्रोजेक्ट (Organized Crime and Corruption Reporting Project) के साथ हाथ मिलाया है. OCCRP जॉर्ज सोरोस की संस्था है, जिसने अदाणी ग्रुप के प्रति अपने विद्वेष और दुर्भावना का खुलकर ऐलान कर रखा है'. इन्होंने साथ मिलकर 31 अगस्त, 2023 को भी ग्रुप के खिलाफ निराधार स्टोरी पब्लिश की थी.

CLSA की अदाणी पोर्ट्स पर रिपोर्ट

इधर, CLSA ने अदाणी पोर्ट्स एंड SEZ को लेकर अपनी रिपोर्ट में कंपनी के लिए अपनी खरीदारी की रेटिंग को बरकरार रखा है, टारगेट प्राइस 878 रुपये रुपये का दिया है. इजरायल और हमास के बीच चल रही जंग के बीच इजरायल में में मौजूद अदाणी पोर्ट के हाइफा पोर्ट को लेकर CLSA ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि हाइफा पोर्ट मुनाफे वाली कंपनी है जिसका फोकस बल्क और कंटेनर्स पर है. हाइफा पोर्ट नॉर्थ में है, जबकि गाजा साउथ में है, इसलिए रुकावटों की आशंका कम है. हाइफा पोर्ट का 1HFY24 में अदाणी पोर्ट्स के वॉल्यूम में 3% योगदान है. 5% की गिरावट लंबी अवधि की रियायतों के साथ बेहतर खरीदारी का मौका है.

NDTV Profit हिंदी
लेखकNDTV Profit Desk
NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT