ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

Housing Sales Anarock Report: दिल्ली-नोएडा और मुंबई से ज्यादा पुणे में बिके घर, 1 साल में 48% बढ़ी मकानों की बिक्री

एनारॉक रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली-NCR में मकानों की बिक्री 42% बढ़कर 50,620 करोड़ रुपये हो गई, जो पिछले साल 35,610 करोड़ रुपये थी.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी04:40 PM IST, 15 May 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

वित्त वर्ष 2023 रियल एस्टेट सेक्टर के लिए बंपर साल साबित हुआ है. रियल एस्टेट कंसल्टेंट एनारॉक के मुताबिक देश के 7 प्रमुख शहरों में घरों की बिक्री पिछले वित्त वर्ष में सालाना आधार पर 48% बढ़कर 3.47 लाख करोड़ रुपये रही है.

एनारॉक ने बताया कि वैल्यू बेस पर आवासीय संपत्तियों की बिक्री पिछले वित्त वर्ष में बढ़कर 3,46,960 करोड़ रुपये हो गई, जो 2021-22 में 2,34,850 करोड़ रुपये थी.

वॉल्यूम बेस पर बिक्री 36% बढ़ी

वॉल्यूम के लिहाज से 2022-23 में बिक्री 36% बढ़कर 3,79,095 यूनिट रही जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 2,77,783 यूनिट थी. ये आंकड़ा प्राइमरी (फ्रेश सेल) हाउसिंग मार्केट के लेनदेन से संबंधित है.

भारत का हाउसिंग रियल एस्टेट सेगमेंट काफी तेजी से बढ़ता दिख रहा है, साथ ही एक नया बेंचमार्क स्थापित कर रहा है.
अनुज पुरी, चेयरमैन, एनारॉक ग्रुप

दिल्ली-NCR में मकानों की बिक्री 42% बढ़ी

आंकड़ों के मुताबिक-

दिल्ली-NCR: 42% बढ़कर 50,620 करोड़ रुपये, पिछले वित्त वर्ष में 35,610 करोड़ रुपये थी.

मुंबई महानगर क्षेत्र (MMR): बिक्री 2021-22 के 1,14,190 करोड़ रुपये से 46% बढ़कर 2022-23 में 1,67,210 करोड़ रुपये

बेंगलुरु: बिक्री 2021-22 के 26,100 करोड़ रुपये से 49% बढ़कर 2022-23 में 38,870 करोड़ रुपये

पुणे: बिक्री 2021-22 के 19,100 करोड़ रुपये से 77% बढ़कर 2022-23 में 33,730 करोड़ रुपये

हैदराबाद: बिक्री 2021-22 के 23,190 करोड़ रुपये से 50% बढ़कर 2022-23 में 34,820 करोड़ रुपये

चेन्नई: बिक्री 2021-22 के 8,940 करोड़ रुपये से 24% बढ़कर 2022-23 में 11,050 करोड़ रुपये हुई

कोलकाता: बिक्री 2021-22 के 7,720 करोड़ रुपये से 38% बढ़कर 2022-23 में 10,660 करोड़ रुपये हो गई.

गुरुग्राम की लग्जरी रियल्टी कंपनी कृसुमी कॉरपोरेशन (Krisumi Corporation) के प्रबंध निदेशक मोहित जैन ने कहा कि बीते साल में हाउसिंग सेक्टर में बदलाव आया है और ये अधिक परिपक्व और बुनियादी रूप से मजबूत हो रहा है.

वहीं सस्ते (अफॉर्डेबल) हाउसिंग सेक्टर में काम करने वाली सिग्नेचर ग्लोबल के चेयरमैन प्रदीप अग्रवाल ने कहा कि मिलेनियल्स अब रियल एस्टेट में सक्रिय रूप से निवेश कर रहे हैं, जिससे कुल संपत्ति की बिक्री में वृद्धि हुई है.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT