ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

BLS ई-सर्विसेज का IPO खुला, पैसे लगाने से पहले जान लीजिए सबकुछ

ये IPO 30 जनवरी से लेकर 1 फरवरी, 2024 तक खुला रहेगा. कंपनी बिडिंग के लिए 2.3 करोड़ शेयरों को ऑफर कर रही है.
NDTV Profit हिंदीमोहम्मद हामिद
NDTV Profit हिंदी08:51 AM IST, 30 Jan 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

टेक्नोलॉजी बैक्ड सर्विस प्रोवाइडर BLS ई-सर्विसेज Ltd(BLS E-Services Ltd) का IPO आज से खुल गया है. इस IPO में अगर आप पैसा लगाना चाहते हैं तो इसके बारे में सभी जानकारी हासिल करना जरूरी है.

ये IPO 30 जनवरी से लेकर 1 फरवरी, 2024 तक खुला रहेगा. कंपनी बिडिंग के लिए 2.3 करोड़ शेयरों को ऑफर कर रही है. इसमें प्री-IPO प्लेसमेंट शामिल नहीं है. कंपनी ने 125 रुपये के भाव पर 11 लाख शेयरों केप्री-IPO प्लेसमेंट के जरिए 13.75 करोड़ रुपये जुटाए हैं.

एंकर निवेशकों से जुटाए 126 करोड़ रुपये

IPO से पहले 29 जनवरी को कंपनी ने एंकर निवेशकों से 126 करोड़ रुपये जुटाए हैं. BSE की वेबसाइट के मुताबिक कंपनी ने 93.27 लाख शेयर 135 रुपये के भाव पर 10 फंड्स को अलॉट किए हैं. सिक्सटींथ स्ट्रीट एशियन जेम्स फंड, सेंट कैपिटल फंड, सिल्वर स्ट्राइड इंडिया ग्लोबल फंड, एरीज अपॉर्चुनिटीज फंड, एडोस इंडिया फंड उन एंकर निवेशकों में से हैं जिन्हें शेयर आवंटित किए गए हैं.

प्राइस बैंड और लॉट साइज

IPO का प्राइस बैंड 129-135 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है, लॉट साइज 108 शेयरों का है. यानी अपर प्राइस बैंड पर एक लॉट के लिए 14,850 रुपये लगाने होंगे. इसके बाद रिटेल निवेशक 108 के मल्टीपल पर बोली लगा सकते हैं. कंपनी इश्यू के जरिए 310.90 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है.

  • IPO खुला- 30 जनवरी

  • IPO बंद- 1 फरवरी

  • प्राइस बैंड- 129-135 रुपये

  • लॉट साइज- 108 शेयर

  • IPO साइज- 310.90 करोड़ रुपये

क्या करती है कंपनी

BLS ई-सर्विसेज एक टेक्नोलॉजी इनेबल्ड डिजिटल सर्विस प्रोवाइडर है, जो कि देश में कई बड़े बैंकों को कॉरेसपॉन्डेंस सर्विसेज मुहैया कराती है. कंपनी शहरी, अर्ध-शहरी, ग्रामीण और दूरदराज इलाकों में जरूी सार्वजनिक उपयोगिता सेवाओं और सामाजिक कल्याण योजनाओं को पहुंचाने के लिए मदद करती है.

इश्यू से मिले पैसों का इस्तेमाल कंपनी नई क्षमताओं को विकसित करने और अपने मौजूदा प्लेटफार्म्स को मजबूत करने के लिए करेगी. साथ ही अपने टेक्नोलॉजी इंफ्रास्ट्रक्चर को भी मजबूत करने के लिए पैसों का इस्तेमाल किया जाएगा.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT