ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

राशि पेरिफेरल्स का IPO खुला, क्या आपको निवेश करना चाहिए?

इसका प्राइस बैंड 295–311 रुपये प्रति शेयर रखा गया है. ये इश्यू 9 फरवरी को बंद होगा.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी11:49 AM IST, 07 Feb 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

आज से राशि पेरिफेरल्स (Rashi Peripherals Ltd.) का IPO खुल गया है. इंफॉर्मेशन और टेक्नोलॉजी से जुड़े प्रोडक्ट्स बनाने वाली इस कंपनी में क्या आपको पैसा लगाना चाहिए. ये फैसला करने से पहले आपको IPO और कंपनी के बारे में पूरी जानकारी होना जरूरी है.

राशि पेरिफेरल्स ताजा शेयर जारी करके 600 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है. इसका प्राइस बैंड 295–311 रुपये प्रति शेयर रखा गया है. ये इश्यू 9 फरवरी को बंद होगा. इश्यू का 50% हिस्सा QIBs के लिए रिजर्व है, 15% हिस्सा गैर-संस्थागत निवेशकों के लिए और बाकी 35% हिस्सा रिटेल निवेशकों के लिए रिजर्व रखा गया है.

राशि पेरिफेरल्स का IPO

  • इश्यू खुला: 7 फरवरी

  • इश्यू बंद: 9 फरवरी

  • कुल इश्यू साइज: 600 करोड़ रुपये

  • फेस वैल्यू: 5 रुपये प्रति शेयर

  • प्राइस बैंड: 295–311 रुपये प्रति शेयर

  • लॉट साइज: 48 शेयर

पैसों का इस्तेमाल

इश्यू से मिले पैसों का इस्तेमाल कंपनी की ओर से लिए गए सभी या कुछ बकाया कर्जों को चुकाने में किया जाएगा, इसके अलावा वर्किंग कैपिटल जरूरतों और सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों को पूरा करने के लिए भी इसका इस्तेमाल होगा.

कंपनी करती क्या है?

राशि पेरिफेर्स 1989 में शुरू हुई थी. ये कंपनी भारत में ग्लोबल टेक्नोलॉजी ब्रैंड्स को बेचती है. ये इंफॉर्मेशन एंड कम्यूनिकेशन टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट्स के एक्सपर्ट हैं. ये कई तरह की सर्विसेज ऑफर करते हैं जैसे- प्री-सेल्स, टेक्निकल सपोर्ट, मार्केटिंग सर्विसेज, क्रेडिट सॉल्यूशंस और वारंटी मैनेजमेंट सर्विसेज.

कंपनी के दो बिजनेस वर्टिकल्स हैं.

  • पर्सनल कंप्यूटिंग, एंटरप्राइज और क्लाउड सॉल्यूशंस

  • लाइफस्टाइल और IT

30 सितंबर, 2023 तक, राशी पेरिफेरल्स 52 ग्लोबल टेक्नोलॉजी ब्रैंड्स की नेशनल डिस्ट्रीब्यूटर है. कंपनी के पास कई बड़े बड़े ग्राहक हैं. जैसे आसुस ग्लोबल, डेल इंटरनेशनल, HP इंडिया और लेनोवो इंडिया. पूरे भारत में इसकी 50 शाखाएं और 63 वेयरहाउस हैं, 680 लोकेशंस पर 8,657 डिस्ट्रीब्यूटर्स हैं.

VIDEO: IPO रिव्यू यहां देखें

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT