ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

SC की एक्सपर्ट कमिटी की क्लीन चिट के बाद अदाणी ग्रुप के शेयरों में शानदार तेजी, क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

अदाणी-हिंडनबर्ग मामले में सुप्रीम कोर्ट की एक्सपर्ट कमिटी ने शुक्रवार को अदाणी ग्रुप को क्लीन चिट दी थी.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी05:50 PM IST, 22 May 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

अदाणी ग्रुप (Adani Group) के शेयरों में सोमवार को शानदार तेजी रही. अदाणी एंटरप्राइजेज (Adani Enterprises) करीब 19% के उछाल के साथ बंद हुआ. वहीं, अदाणी ग्रुप का मार्केट कैप ₹10 लाख करोड़ के पार हो गया. अदाणी ग्रुप का मार्केट कैप 23 जनवरी 2023 को 19.2 लाख करोड़ रुपये था, 24 जनवरी को हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आई थी. 23 फरवरी से रोड शो की शुरुआत के बाद से लेकर अब तक अदाणी ग्रुप के मार्केट कैप में 50% तक की रिकवरी आ चुकी है.

सुप्रीम कोर्ट की एक्सपर्ट कमिटी ने शुक्रवार को अदाणी ग्रुप को क्लीन चिट दी थी. इसके बाद शुक्रवार को शेयरों में बढ़त दिखी, लेकिन इसका बड़ा असर दिखा आज जब ग्रुप के सभी शेयरों में तूफानी तेजी नजर आई.

आइए जानते हैं अदाणी ग्रुप के शेयरों में शानदार तेजी पर मार्केट एक्सपर्ट्स की क्या राय है.

'जारी रह सकती है शेयरों में तेजी'

मार्केट एक्सपर्ट अंबरीश बलिगा का कहना है कि अदाणी ग्रुप पर चल रही जांच किसी तलवार की तरह लटक रही थी. लेकिन, एक्सपर्ट कमिटी ने साफ किया कि कोई रेगुलेटरी फेल्योर नहीं हुआ और न ही शेयर की कीमतों में जान बूझकर हेर-फेर किया गया. ये अदाणी ग्रुप को क्लीन चिट देने जैसा ही है. अदाणी ग्रुप के शेयरों में रैली जारी रह सकती है लेकिन लाइफ-टाइम हाई अभी दूर की बात है. अदाणी ग्रुप के जिन शेयरों से अच्छे परफॉर्मेंस की उम्मीद है उनमें अदाणी विल्मर, अदाणी पोर्ट्स और अदाणी एंटरप्राइजेज शामिल हैं.

'शेयर की कीमतों में छेड़छाड़ का कोई सबूत नहीं'

वेंचुरा सिक्योरिटीज के विनीत बोलिंजकर ने कहा कि जांच पर स्पेशल कमिटी की रिपोर्ट से पता चलता है कि अदाणी ग्रुप पर लगाए गए इल्जाम गलत थे और शेयर की कीमतों में छेड़छाड़ का कोई सबूत नहीं है. इसके साथ ही, FPIs की ओर से किए गए डिसक्लोजर से कोई कानून नहीं तोड़ा गया और साझा की गई सारी अहम जानकारी समय और कानून के तहत थी.

हमें लगता है कि कमिटी का स्टेटमेंट अदाणी ग्रुप के लिए बेहतरीन साबित होगा क्योंकि इससे उनकी विश्वसनीयता फिर मजबूत होती है और इससे ये भी साबित होता है ग्रुप की कॉरपोरेट गर्वनेंस के नियम बिलकुल सही हैं.
विनीत बोलिंजकर, वेंचुरा सिक्योरिटीज

विनीत बोलिंजकर ने बताया कि हमें लगता है कि इससे अदाणी ग्रुप के सभी शेयरों पर इंस्टिट्यूशनल इन्वेस्टर्स का भरोसा बढ़ेगा. ये अदाणी ग्रुप के शेयरों में उन लोगों की रुचि और विश्वास भी बढ़ाएगा जो इन शेयरों में आई पिछली बुल रैली का फायदा नहीं ले पाए थे. साथ ही, सावधानी बरत रहे इंस्टिट्यूशनल इन्वेस्टर्स का झुकाव भी इन शेयरों की तरफ बढ़ेगा. इस रिपोर्ट से अदाणी ग्रुप को ग्रोथ कैपिटल और डेट जुटाने में भी मदद मिलेगी जो तेजी से आगे बढ़ रहे ग्रुप और उसके ग्रोथ प्लान के लिए बेहद अहम होगा.

उन्होंने ये भी बताया कि हिंडनबर्ग रिपोर्ट आने के बाद, पिछले कुछ महीनों में अदाणी ग्रुप के शेयरों के वैल्युएशन और डीलेवरेजिंग को लेकर उठाए कदमों ने अदाणी ग्रुप की स्थिति को मजबूत कर दिया है. शेयरों में अब रैली देखने को मिलेगी. लोग शेयरों में धीरे-धीरे निवेश करना शुरू करेंगे और पूरा एलोकेशन SEBI की 14 अगस्त को सबमिट की जाने वाली रिपोर्ट के बाद होगा.

जिन शेयरों में नजर रहेगी उनमें अदाणी पोर्ट्स, अदाणी टोटल, अदाणी एंटरप्राइजेज, अदाणी ट्रांसमिशन, अंबुजा, ACC, अदाणी पावर और अदाणी ग्रीन शामिल हैं.

TCG के CIO & MD चकरी लोकप्रिय ने कहा कि जांच के बाद पता चलता है कि हिंडनबर्ग रिपोर्ट में जिन गड़बड़ियों की बात कही गई थी, वो सच नहीं है. जांच के बाद अदाणी के शेयरों में धीरे ही सही लेकिन तेजी आएगी. अदाणी के कुछ शेयरों से अच्छे परफॉर्मेंस की उम्मीद है, जैसे अदाणी पोर्ट्स और अदाणी एंटरप्राइजेज.

अदाणी ग्रुप के फंडामेंटल्स मजबूत: देवेन चोकसी

KR चोकसी शेयर्स एंड सिक्योरिटीज प्राइवेट लिमिटेड के MD देवेन चोकसी ने कहा कि अदाणी ग्रुप की कंपनियों के फंडामेंटल पहले की तरह मजबूत बने हुए हैं. जितना हम जानते हैं इन आरोपों ने अदाणी ग्रुप के डेवलपमेंट प्लान को प्रभावित नहीं किया है.

देवेन ने कहा- हिंडनबर्ग जैसी रिपोर्ट से रिटेल निवेशकों को ज्यादा नुकसान होता है. निवेशकों को अदाणी ग्रुप के शेयरों को लेकर घबराने की जरूरत नहीं. रिटेल निवेशक घबराएं नहीं, रेगुलेटर्स लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं.

'अदाणी ग्रुप को बूस्टर देगी क्लीन चिट'

प्रॉफिटमार्ट सिक्योरिटीज के डायरेक्टर (रिसर्च) अविनाश गोरक्षकर ने कहा कि अदाणी-हिंडनबर्ग मामले में सुप्रीम कोर्ट की एक्सपर्ट कमिटी ने क्लीन चिट देकर लंबे समय से लंबित मामले को हमेशा के लिए अदाणी ग्रुप के पक्ष में फैसला दिया है. ये फैसला अदाणी ग्रुप को बूस्टर देगा. अब अदाणी ग्रुप अपनी ग्रोथ पर अच्छी तरह से फोकस कर सकेगा. पहले से ही अदाणी एंटरप्राइजेज और अदाणी ट्रांसमिशन ने संभावित इन्वेस्टर्स से पैसा जुटाने का फैसला किया है क्योंकि कुछ समय के लिए रिटेल ऑफरिंग को एलिमिनेट कर दिया गया था.

मार्केट कैप में 50% की आई रिकवरी

अदाणी ग्रुप का मार्केट कैप 23 जनवरी 2023 को 19.2 लाख करोड़ रुपये था, 24 जनवरी को हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आई थी. 23 फरवरी से रोड शो की शुरुआत के बाद से लेकर अब तक अदाणी ग्रुप के मार्केट कैप में 50% तक की रिकवरी आ चुकी है. सोमवार को अदाणी ग्रुप शेयरों का मार्केट कैप 81,941 करोड़ रुपये बढ़ा.

SC कमिटी ने दी थी क्लीन चिट

अदाणी-हिंडनबर्ग मामले में सुप्रीम कोर्ट की एक्सपर्ट कमिटी ने शुक्रवार को अदाणी ग्रुप को क्लीन चिट दी थी. एक्सपर्ट कमिटी ने अपनी रिपोर्ट में ये साफ कहा कि पहली नजर में अदाणी ग्रुप ने न तो कोई नियम तोड़ा, ना ही किसी कानून का उल्लंघन किया है. हिंडनबर्ग रिपोर्ट के बाद शॉर्ट सेलर्स ने मुनाफा कमाया और इसकी जांच होनी चाहिए.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT