ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

ब्रोकर का सिस्टम डाउन? SEBI ने निकाल लिया आपको नुकसान से बचाने का तरीका

SEBI चेयरपर्सन, माधबी पुरी बुच ने मंगलवार को ग्लोबल फिनटेक फेस्ट 2023 में बताया कि अब ब्रोकर का सिस्टम डाउन होने पर भी क्लाइंट अपने ट्रेड सेटल कर सकेंगे.
NDTV Profit हिंदीविकास कुमार
NDTV Profit हिंदी10:21 PM IST, 05 Sep 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

शेयर बाजार में ट्रेड करते हैं? ब्रोकर के डाउन होने से कभी नुकसान भी हुआ है? तो अब SEBI ने आपको नुकसान से बचाने के लिए एक नायाब तरीका ढूंढ निकाला है और इसका फ्रेमवर्क तैयार हो रहा है.

SEBI चेयरपर्सन, माधबी पुरी बुच ने मंगलवार को ग्लोबल फिनटेक फेस्ट 2023 में बताया कि अब ब्रोकर का सिस्टम डाउन होने पर भी क्लाइंट अपने ट्रेड सेटल कर सकेंगे.

दरअसल अब तक होता ये था कि ब्रोकर का सिस्टम डाउन होने की स्थिति में ट्रेडर्स अपने सौदे सेटल नहीं कर पाते थे और उससे उन्हें कई बार बड़ा नुकसान भी उठाना पड़ता था.

SEBI चेयरपर्सन, माधबी पुरी बुच ने बताया कि अब अगर कोई ब्रोकर डाउन होता है तो हम एक ऐसा मैकेनिज्म बना रहे हैं जिससे क्लाइंट के पास एक्सचेंज का सीधा एक्सेस होगा. क्लाइंट, एक्सचेंज के पास से अपने ट्रेड का सेटलमेंट करा सकेगा. हालांकि SEBI चेयरपर्सन ने ये भी बताया कि ऐसी स्थिति में क्लाइंट या ट्रेडर कोई नई पोजीशन नहीं ले सकेगा.

जल्द ही 1 घंटे में भी हो सकेगा सेटलमेंट

T+1 सेटलमेंट सिस्टम के बारे में बात करते हुए SEBI चेयरपर्सन ने कहा कि पूरी दुनिया में भारत पहला ऐसा देश है जहां T+1 सिस्टम लागू हुआ. इसके साथ ही फ्यूचर प्लान पर बात करते हुए उन्होंने एक बड़ा ऐलान कर दिया. SEBI चीफ ने कहा कि अब हम 1 घंटे में सेलटमेंट बारे में विचार कर रहे हैं और इसे लागू करना हमारे लिए मील का पत्थर साबित होगा.

डिस्क्लोजर आधारित रेगुलेशन पर होगा फोकस

SEBI चीफ ने ग्लोबल फिनटेक फेस्ट में अपनी स्पीच के दौरान कहा कि मार्केट रेगुलेटर अब डिस्क्लोजर आधारित रेगुलेशन पर फोकस बढ़ाएगा. AI के महत्व की बात करते हुए उन्होंने कहा कि भविष्य में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से हमें डिस्क्लोजर के मामलों में अच्छी मदद मिलने की उम्मीद है.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT