ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

MSCI Rejig Today: कौन सी कंपनियां जुड़ेंगी और कौन होंगी बाहर, देखिए ब्रोकरेज अनुमान

Morgan Stanley का अनुमान है कि LIC द्वारा बड़ी हिस्सेदारी की बिक्री के बाद हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स को इंडेक्स में शामिल किया जाएगा.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी11:32 AM IST, 09 May 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

ग्लोबल ब्रोकरेज कंपनी मॉर्गन स्टेनली (Morgan Stanley) के मुताबिक, इंडेक्स प्रोवाइडर MSCI मई महीने के इंडेक्स रिव्यू में 4 शेयरों को शामिल कर सकता है और करीब 5 कंपनियों के वेटेज को बदल सकता है.

आज MSCI इंडेक्स में मई रिव्यू की लिस्ट जारी होगी. मॉर्गन स्टेनली को उम्मीद है कि MSCI इंडेक्स में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (Hindustan Aeronautics Ltd.) , मैक्स हेल्थकेयर (Max Healthcare Institute Ltd.), कमिंस इंडिया (Cummins India Ltd.) और अशोक लेलैंड (Ashok Leyland Ltd.) को शामिल करेगा.

MSCI के इस कदम से 1.3 बिलियन डॉलर यानी करीब 10,632.58 करोड़ रुपये का एनफ्लो आने की उम्मीद है.

MSCI इमर्जिंग मार्केट्स में MSCI इंडिया का वेटेज अक्टूबर 2019 के 9% से बढ़कर 14% हो गया है और इंडेक्स में शेयरों की संख्या 80 से बढ़कर 114 हो गई है. मई की समीक्षा के बाद इस लिस्ट में 4 और स्टॉक्स जुड़ने की उम्मीद है.

क्या होती हैं शर्तें?

MSCI स्टॉक इनक्लूजन मेथडोलॉजी के अनुसार, इसके लिए आवश्यक मिनिमम मार्केट कैप और फ्री-फ्लोट एडजस्टेड मार्केट कैप, जरूरी मिनिमम साइज के 50% के बराबर या उससे ज्यादा होना चाहिए. अन्य मानदंडों में ग्लोबल मिनिमम फॉरेन इनक्लूजन फैक्टर (FIF) और मिनिमम फॉरेन रूम रिक्वायरमेंट भी शामिल हैं.

MSCI बदलावों पर मॉर्गन स्टेनली का अनुमान

  • Morgan Stanley का अनुमान है कि LIC यानी भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा बड़ी हिस्सेदारी की बिक्री के बाद हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स (HAL) को इंडेक्स में शामिल किया जाएगा.

  • दूसरी ओर, मैक्स हेल्थकेयर इंस्टीट्यूट, कमिंस इंडिया और अशोक लीलैंड को MSCI इंडिया स्मॉल-कैप इंडेक्स से स्टैंडर्ड इंडेक्स में डाला जाएगा

  • ब्रोकरेज के अनुसार MSCI, कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड, इंटरग्लोब एविएशन लिमिटेड और संवर्धन मदरसन इंटरनेशनल लिमिटेड का वेटेज बढ़ा सकता है.

  • कोटक के वेटेज में भी उछाल आ सकता है, क्योंकि इसका फॉरेन रूम 25% से ज्यादा है. ऐसे में अनुमानित कुल 1.3 बिलियन डॉलर के फ्लो की तुलना में, अकेले 745 मिलियन डॉलर या लगभग 611.20 करोड़ रुपये का फ्लो आने की संभावना है.

  • दूसरी ओर, इंटरग्लोब एविएशन और संवर्धन मदरसन के प्रोमोटर्स द्वारा हिस्सेदारी बिक्री के बाद वेटेज में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है.

  • रिव्यू में अदाणी ट्रांसमिशन (Adani Transmission Ltd) और अदाणी टोटल गैस (Adani Total Gas Ltd.) का वेटेज कम किए जाने का अनुमान है.

  • MSCI ने अदाणी ट्रांसमिशन के लिए FIF को 25% से घटाकर 14% और अदाणी टोटल गैस के लिए 25% से घटाकर 10% करने की पुष्टि की है.

इंडेक्स प्रोवाइडर MSCI, 12 मई की सुबह अपनी सूचकांक समीक्षा (Index Review) के नतीजे जारी करेगा और सभी बदलाव 1 जून से प्रभावी होंगे.

MSCI बदलावों पर Nuvama का अनुमान

  • ब्रोकरेज को इंडेक्स में शामिल किए जाने के बाद हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स में 190 मिलियन डॉलर के इनफ्लो की उम्मीद है, जबकि इंडस टॉवर के बाहर जाने के बाद इसमें 83 मिलियन डॉलर के आउटफ्लो का अनुमान है

  • कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड, इंटरग्लोब एविएशन लिमिटेड, संवर्धन मदरसन इंटरनेशनल लिमिटेड और जोमैटो लिमिटेड का वेटेज बढ़ने का अनुमान है

  • ब्रोकरेज को 122 मिलियन डॉलर के कुल आउटफ्लो के साथ अदाणी ट्रांसमिशन लिमिटेड और 84 मिलियन डॉलर के आउटफ्लो के साथ अदाणी टोटल गैस लिमिटेड के वेटेज में कटौती का अनुमान है

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT