ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

खराब ग्लोबल संकेतों से भारतीय बाजारों पर दिख सकता है दबाव, ये शेयर रहेंगे नजर में

अमेरिकी बाजारों में डाओ जोंस 5 दिनों की गिरावट के बाद को मंगलवार को संभला था, लेकिन बुधवार को फिर इसमें बड़ी गिरावट देखने को मिली
NDTV Profit हिंदीमोहम्मद हामिद
NDTV Profit हिंदी08:26 AM IST, 16 Mar 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

दुनिया के बाजारों में इस वक्त क्या चल रहा है, इसका अंदाजा लगाना मुश्किल हो रहा है. आज भारतीय बाजारों के लिए ग्लोबल मार्केट्स से संकेत काफी खराब है. बुधवार को गिरावट के बाद आज वायदा एक्सपायरी भी है, इसलिए भारतीय बाजारों पर आज घरेलू और वैश्विक दोनों तरफ से दबाव देखने को मिल सकता है. अमेरिकी बाजार एक दिन चढ़ते हैं, तो दूसरे ही दिन गिर जाते हैं. बैंकिंग संकट की आंच अब यूरोप तक पहुंच गई है, इसकी वजह से यूरोपीय बाजार भी बुधवार को ढेर हो गए. एशियाई बाजारों की शुरुआत भी आज मिली जुली हुई है.

क्रेडिस सुईस संकट से यूरोपीय बाजार ढहे

सबसे पहले क्रेडिट सुईस की बात, कल बुधवार को क्रेडिट सुईस के शेयर में 28% तक की भारी गिरावट आई, हालांकि यूरोप के सेंट्रल बैंक ने जब ये ऐलान किया कि वो क्रेडिट सुईस में करीब 53 बिलियन डॉलर डालेंगे तो थोड़ा सुधार देखने को मिला. जर्मनी का बाजार DAX, UK का मार्केट FTSE और फ्रांस का मार्केट CAC40, सभी 3.5% से ज्यादा की गिरावट के साथ बंद हुए.

अमेरिकी बाजार फिर से लुढ़के

अमेरिकी बाजारों में डाओ जोंस 5 दिनों की गिरावट के बाद को मंगलवार को संभला था, लेकिन बुधवार को फिर इसमें बड़ी गिरावट देखने को मिली, डाओ जोंस 281 अंक कमजोर होकर 32,000 के नीचे बंद हुआ. टेक हैवी नैस्डे की शुरुआत तो गिरावट के साथ हुई थी, लेकिन आखिर में आई खरीदारी के चलते ये बिल्कुल फ्लैट बंद हुआ है. S&P500 में करीब पौना परसेंट की गिरावट देखने को मिली है.

एशियाई बाजारों में मिली जुली शुरुआत

एशियाई बाजारों की शुरुआत काफी मिली जुली है. SGX निफ्टी 16859 पर खुला था, फिलहाल इसमें तेजी है, और ये 17,000 के ऊपर पहुंचकर टिका हुआ है. जापान का बाजार निक्केई जो शुरुआती ट्रेडिंग में 2% के करीब टूटा हुआ था, अब इसमें भी रिकवरी दिख रही है, अभी इसमें 1% की गिरावट है. चीन के बाजार शंघाई में चौथाई परसेंट के आसपास की गिरावट है. हॉन्ग कॉन्ग के बाजार हैंग सेंग में 1.25% की कमजोरी है. कोरिया का बाजार कॉस्पी बिल्कुल फ्लैट है.

कच्चा तेल 74 डॉलर के नीचे

कच्चा तेल 15 महीनों में पहली बार 74 डॉलर के नीचे फिसल गया है. ब्रेंट क्रूड अभी 73 डॉलर के ऊपर टिके रहने की कोशिश में हैं, मांग में कमी के चलते WTI क्रूड भी 7% टूटकर 67 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है.

करेंसी मार्केट में डॉलर के मुकाबले रुपया 11 पैसे की कमजोरी के साथ 82.60 पर बंद हुआ. हालांकि इंट्रा डे में ये 17 पैसे मजबूत होकर 82.32 तक भी गया था.

खबरों वाले शेयर

इसके अलावा उन शेयरों पर भी नजर रखनी चाहिए, जहां खबरों के दम पर हलचल देखने को मिल सकती है

  • Patanjali Foods: स्टॉक एक्सचेंज BSE और NSE ने कंपनी में प्रमोटर्स और प्रमोटर ग्रुप की शेयरहोल्डिंग फ्रीज कर दी है क्योंकि यह तय समय सीमा के भीतर पब्लिक शेयरहोल्डिंग को अनिवार्य 25% तक नहीं बढ़ा सके.

  • ITC: ITC इंफोटेक इंडिया कंपनी की पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरी कंपनी ने ITC इंफोटेक GmbH के नाम से जर्मनी में एक सहायक कंपनी बनाई.

  • Federal Bank: प्राइवेट प्लेसमेंट के माध्यम से टियर-2 बॉन्ड के जरिए 1,000 करोड़ रुपये जुटाने पर विचार करने के लिए बैंक का बोर्ड 18 मार्च, 2023 को बैठक करेगा.

  • JSW Energy: कंपनी की फाइनेंस कमेटी ने 250 करोड़ रुपये जुटाने के लिए 1 लाख रुपये के 25,000 नॉन-कन्वर्टिबल डिबेंचर के आवंटन को मंजूरी दी.

  • Future Retail: रिजोल्यूशन प्रोफेशनल की आपत्ति के बाद किशोर बियानी ने कंपनी के एग्जिक्यूटिव चेयरमैन और डायरेक्टर के पद से अपना इस्तीफा वापस ले लिया है.

  • Godawari Power & Ispat: शेयर बायबैक कार्यक्रम पर विचार करने के लिए बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स 18 मार्च को बैठक करेगा

  • Sarda Energy & Minerals: कंपनी को मौजूदा रोलिंग मिल को 1.8 लाख टन से बढ़ाकर 2.5 लाख टन सालाना करने के लिए छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण बोर्ड से ऑपरेट करने की मंजूरी मिली

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT