ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

फेड ऐलानों के बाद गिरे अमेरिकी मार्केट्स, भारतीय बाजारों के लिए क्या हैं ग्लोबल संकेत

दो दिनों की बैठक के बाद फेडरल रिजर्व ने जब पॉलिसी का ऐलान किया तो बाजार और एनालिस्ट्स को ये उम्मीद थी कि जनवरी की पॉलिसी में न सही, मार्च में रेट कटौती की गुंजाइश को लेकर कोई संकेत मिलेगा.
NDTV Profit हिंदीमोहम्मद हामिद
NDTV Profit हिंदी08:20 AM IST, 01 Feb 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

भारतीय शेयर बाजारों के लिए आज इवेंट से भरा दिन है, सुबह 11 बजे वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अंतरिम बजट पेश करेंगी, इससे पहले अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में कटौती को लेकर कुछ ऐसा कह दिया है जो अमेरिकी बाजारों को पसंद नहीं आया. अब देखना ये है कि इन दोनों घटनाओं का भारतीय बाजारों पर क्या असर होता है.

मार्च में रेट कट से फेड का इनकार

दो दिनों की बैठक के बाद फेडरल रिजर्व ने जब पॉलिसी का ऐलान किया तो बाजार और एनालिस्ट्स को ये उम्मीद थी कि जनवरी की पॉलिसी में न सही, मार्च में रेट कटौती की गुंजाइश को लेकर कोई संकेत मिलेगा, लेकिन फेड चेयरमैन जेरोम पॉवेल ने साफ कह दिया कि मार्च में रेट कटौती को लेकर उनके पास पर्याप्त डेटा नहीं हैं, उन्हें महंगाई 2% के नीचे लानी है. पॉलिसी से पहले 50% एनालिस्ट ये मान रहे थे कि मार्च में कटौती होगी, पॉलिसी के बाद अब तीन में से एक एनालिस्ट ही ये अनुमान लगा रहे हैं.

अमेरिकी बाजारों पर दिखा दबाव

हालांकि पॉवेल रेट कटौती से इनकार नहीं किया, मगर अमेरिकी बाजारों ने पॉवेल के बयान को निगेटिव लिया और डाओ जोंस 317 अंक (-0.82%)टूटकर बंद हुआ, डाओ की चार दिनों की रिकॉर्ड रैली पर ब्रेक लग गया. S&P500 में 1.61% की गिरावट रही, जबकि नैस्डेक में सबसे ज्यादा 346 अंकों (-2.23%) की गिरावट रही. हालांकि अमेरिकी फ्यूचर्स में हल्की फुल्की तेजी के साथ कारोबार हो रहा है. मार्च में रेट कटौती से इनकार के बावजूद अमेरिका की 10 साल की बॉन्ड यील्ड 4% से नीचे फिसलकर 3.94% पर आ गई है.

एशियाई बाजारों का हाल

GIFT निफ्टी बिल्कुल फ्लैट ट्रेड कर रहा है और ये 21,800 के आस-पास बना हुआ है. बाकी एशियाई बाजारों में मिला-जुलाई कारोबार देखने को मिल रहा है. जापान का बाजार निक्केई 250 अंकों से ज्यादा टूटा हुआ है, चीन का बाजार शंघाई कंपोजिट 0.5% की मजबूती दिखा रहा है. हॉन्ग कॉन्ग का बाजार हैंग सेंग 180 अंकों से ज्यादा मजबूती के साथ ट्रेड कर रहा है, कोरिया का बाजार कोस्पी भी 1% मजबूत है.

कच्चा तेल, सोना-चांदी

सप्लाई बढ़ने से कच्चे तेल की कीमतों में नरमी आई है, ब्रेंट क्रूड 81 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है, WTI क्रूड भी 76.45 डॉलर प्रति बैरल पर है. अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना 10 डॉलर मजबूत हुआ है, फिलहाल ये 2061 डॉलर प्रति आउंस पर है, चांदी भी फिर से 23 डॉलर प्रति आउंस के ऊपर 23.065 डॉलर पर ट्रेड कर रही है.

खबरों में शेयर

  • One 97 Communications: RBI ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर नई पाबंदियां लगाई हैं. RBI ने 29 फरवरी के बाद निकासी के अलावा सभी तरह के बैंकिंग सर्विसेज पर रोक लगा दी है. 29 फरवरी के बाद किसी ग्राहक के खातों पर कोई डिपॉजिट नहीं ले पाएगा.

  • Infosys: कंपनी ने अपनी इंडस्ट्री की लीडिंग AI और क्लाउड ऑफर्स का फायदा उठाकर मसग्रेव के IT ऑपरेशंस को ऑटोमेट करने के लिए मसग्रेव के साथ सात साल के स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप की है.

  • UltraTech Cement: मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विसने ठोस बैलेंस शीट और काफी मजबूत क्रेडिट मेट्रिक्स का हवाला देते हुए कंपनी की 'Baa3' इश्युअर रेटिंग के साथ-साथ इसकी 'Baa3' सीनियर अनसिक्योर्ड रेटिंग की पुष्टि की है.

  • Paras Defence and Space Technologies: कंपनी को रक्षा मंत्रालय से ऑप्टिकल पेरिस्कोप कॉन्ट्रैक्ट हासिल हुआ है

  • Deepak Nitrite: कंपनी की यूनिट दीपक केम टेक ने गुजरात सरकार के साथ 9,000 करोड़ रुपये के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT