ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

दर्दनाक! बेंगलुरु में 22 साल की इंफोसिस कर्मचारी की सबवे के पानी में डूबने से मौत

घटना की जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री सिद्धारमैया अस्पताल पहुंचे. उन्होंने परिजनों को 5 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी10:43 AM IST, 22 May 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

बेंगलुरु में रविवार को ओलावृष्टि के साथ हुई भारी बारिश के बाद हुए जलजमाव के चलते 22 वर्षीय इंजीनियर युवती की मौत हो गई. वो अपने परिवार के साथ कर्नाटक विधान सौधा के पास सबवे से गुजर रही थी, जहां उनकी गाड़ी फंस गई.

भारी बारिश से सबवे में भरा पानी

फायर ब्रिगेड और इमरजेंसी सेवा के जवानों ने गाड़ी के ड्राइवर और परिवार के बाकी सदस्यों को तो बचा लिया, लेकिन युवती को नहीं बचाया जा सका. युवती का नाम भानुरेखा बताया गया, जो इंफोसिस में काम करती थी. दरअसल, रविवार की दोपहर करीब 3 बजे मूसलाधार बारिश के बाद सबवे जलमग्न हो गया था. भानुरेखा और उसकी फैमिली, अपनी गाड़ी से कहीं जा रहे थे और जलमग्न सबवे में फंस गए.

मौके पर मौजूद लोगों के मुताबिक कार के ड्राइवर ने गाड़ी निकालने की कोशिश की, लेकिन अंडरपास के बीच में कार लगभग डूब गई थी. गाड़ी में सवार लोग जान बचाने के लिए बाहर निकल आए, लेकिन बारिश के कारण पानी का लेवल बढ़ने लगा और सभी डूब गए. पानी में फंसे लोगों को निकालने के बाद उन्हें सेंट मार्था अस्पताल ले जाया गया. यहां डॉक्टर ने भानु को मृत घोषित कर दिया.

CM सिद्धारमैया ने की मुआवजे की घोषणा

इस घटना की जानकारी मिलने पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया अस्पताल पहुंचे. उन्होंने परिजनों को 5 लाख रुपये मुआवजा देने और अस्पताल में भर्ती लोगों के नि:शुल्क इलाज की घोषणा की.

अस्पताल में मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, 'आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा से परिवार ने एक कार किराए पर ली थी और सभी बेंगलुरु घूमने आए थे. भानुरेखा इंफोसिस में काम करती थी. बारिश के कारण अंडरपास पर बैरिकेड गिर गया था और ड्राइवर ने अंडरपास को पार करने का खतरा उठाया. उसे भी ऐसा नहीं करना चाहिए था. वो स्थिति से अनजान था और ये हादसा हो गया.'

DK शिवकुमार ने मंत्री संग किया निरीक्षण

​उप मुख्यमंत्री DK शिवकुमार ने इस घटना के बाद मंत्री श्रीरामलिंगारेड्डी ने घटनास्थल का दौरा किया और निरीक्षण किया. मौसम विभाग की ओर से जारी चेतावनी के मद्देनजर संभावित आपदाओं को रोकने के लिए संबंधितों को एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने कहा, 'बारिश के कारण होने वाली आपदाओं को रोकने के लिए सरकार तैयार है और आवश्यक एहतियाती कदम उठाए जाएंगे.'

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT