ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

'400 सीटों के लिए खड़गे जी का आशीर्वाद सिर आंखों पर'...PM मोदी ने जब राज्य सभा में ली चुटकी

PM मोदी ने कहा कि कांग्रेस आजादी के समय से ही कन्फ्यूज रही कि उद्योग जरूरी हैं या खेती. कांग्रेस ये तय नहीं कर पाई कि राष्ट्रीयकरण जरूरी है या निजीकरण.
NDTV Profit हिंदीमोहम्मद हामिद
NDTV Profit हिंदी03:36 PM IST, 07 Feb 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को राज्य सभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर दिए धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा की. अपने संबोधन में PM मोदी ने कांग्रेस पर कई हमले किए. PM मोदी ने आरक्षण, लोकतंत्र और सामाजिक न्याय समेत कई मुद्दों पर कांग्रेस सरकार की पिछली नीतियों पर सवाल उठाए.

'400 सीटों का आशीर्वाद सिर आंखों पर'

PM मोदी ने मल्लिकार्जुन खड़गे पर भी चुटकी ली, उन्होंने कहा मैं मल्लिकार्जुन खड़गे का विशेष आभार प्रकट करता हूं. मैं इन्हें बहुत ध्यान और आनंद से सुन रहा था. लोकसभा में मनोरंजन की जो कमी हमें खल रही थी, वो इन्होंने पूरी कर दी. PM मोदी ने कहा कि एक बात खुशी की ये रही कि मल्लिकार्जुन खड़गे जो 400 सीट NDA के लिए आशीर्वाद दिया है और आपका आशीर्वाद सिर आंखों पर है. PM मोदी यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल से चुनौती आई है कि कांग्रेस 40 पार नहीं कर पाएगी. मैं प्रार्थना करता हूं कि आप 40 सीट बचा पाएं.

PM मोदी ने कहा कि मेरा विश्वास आज पक्का हो गया है कि कांग्रेस पार्टी सोच से भी आउटडेटेड हो गई है. इतना बड़ा दल, इतने दशकों तक देश पर राज करने वाले दल का ऐसा पतन. हमें खुशी नहीं हो रही बल्कि हमारी आपके प्रति संवेदनाएं हैं.

'कांग्रेस की मानसिकता अंग्रेजों से प्रभावित'

PM मोदी ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी अंग्रेजों से प्रभावित थी. आजादी के बाद भी देश में गुलामी की मानसिकता को कांग्रेस ने बढ़ावा दिया, अगर कांग्रेस अंग्रेजों से प्रभावित नहीं थी तो उनके बनाए सिविल कोड को आपने क्यों नहीं बदला. बजट को शाम 5 बजे क्यों पेश किया जाता था. आपने गुलामी की निशानियों को क्यों रहने दिया. हम आज अंग्रेजों की गुलामी के प्रतीकों को मिटा रहे हैं.

PM मोदी ने कहा कि जिन्होंने देश को तोड़ा अब वो देश को और तोड़ने का नैरेटिव गढ़ रहे हैं, इतना तोड़ा कम नहीं है जो अब कांग्रेस उत्तर और दक्षिण को तोड़ने के लिए बयान दे रही है.

ये कांग्रेस हमें लोकतंत्र का प्रवचन दे रही है. जिस कांग्रेस ने अलगाववाद और आतंकवाद को अपने हित में पलने दिया. जिस कांग्रेस ने नॉर्थ ईस्ट को हिंसा, अलगाव और पिछड़ेपन में धकेल दिया. जिस कांग्रेस ने सत्ता के लालच में सरेआम लोकतंत्र का गला घोंट दिया और लोकतंत्र की मर्यादाओं ने जेल की सलाखों के पीछे बंद कर दिया.

'कांग्रेस हमेशा कन्फ्यूज रही'

PM मोदी ने कहा कि कांग्रेस आजादी के समय से ही कन्फ्यूज रही कि उद्योग जरूरी हैं या खेती. कांग्रेस ये तय नहीं कर पाई कि राष्ट्रीयकरण जरूरी है या निजीकरण. वो कांग्रेस जो 10 साल में भारत की अर्थव्यवस्था को 12वें नंबर से 11वें नंबर पर लाई, हम सिर्फ 10 साल में ही देश की इकोनॉमी को 5वें नंबर पर ले आए. ये कांग्रेस हमें आर्थिक नीतियों पर भाषण दे रही है. PM मोदी ने कहा कि जिस कांग्रेस के अपने नेता की कोई गारंटी नहीं है, वो मोदी की गारंटी पर सवाल उठा रहे हैं.

आरक्षण पर घेरा

कांग्रेस ने OBC को पूरी तरह आरक्षण नहीं दिया, जिसने सामान्य वर्ग के गरीबों को कभी आरक्षण नहीं दिया, जिसने बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर को भारत रत्न देने के योग्य नहीं माना, अपने ही परिवार को भारत रत्न देते रहे. वो हमें सामाजिक न्याय का पाठ पढ़ा रहे हैं.

PM मोदी ने पंडित जवाहर लाल नेहरू की एक चिट्ठी का अनुवाद भी पढ़ा जो राज्यों को लिखी गई थी, जिसमें लिखा था कि 'मैं किसी भी आरक्षण को पसंद नहीं करता और खासकर नौकरी में आरक्षण तो कतई नहीं. मैं ऐसे किसी भी कदम के खिलाफ हूं जो अकुशलता को बढ़ावा दे, जो दोयम दर्जे की तरफ ले जाए.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT