ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

जेफरीज ने ITC को किया डाउनग्रेड, BAT की हिस्सेदारी बिक्री के ऐलान का असर

ब्रोकरेज ने शेयर के टार्गेट प्राइस को 520 रुपये/ शेयर से घटाकर 430 रुपये/ शेयर कर दिया गया है. इसमें 2.8% बढ़ोतरी की संभावना है.
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी02:28 PM IST, 09 Feb 2024NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

जेफरीज (Jefferies) ने ITC की रेटिंग को खरीदारी से डाउनग्रेड करके होल्ड कर दिया है. इसके पीछे वजह है कि कंपनी के सबसे बड़ी शेयरधारक BAT ने कंपनी में अपनी कुछ हिस्सेदारी बेचने (Divest) का करने का ऐलान किया. ब्रोकरेज ने शेयर के टार्गेट प्राइस को 520 रुपये/ शेयर से घटाकर 430 रुपये/ शेयर कर दिया गया है. शुक्रवार के भाव से इसमें 2.8% बढ़ोतरी की संभावना है.

BAT ने हिस्सेदारी बेचने का ऐलान क्यों किया?

ब्रोकरेज ने कहा कि BAT की हिस्सेदारी बिक्री, अगले 12 महीनों के दौरान दो टैक्सेशन और वॉल्यूम ग्रोथ में सुस्ती की वजह से आगे चलकर शेयर के रेंज में बने रहने की उम्मीद है.

BAT ने तिमाही नतीजे जारी करने के बाद एक बयान में कहा था कि हमारे पास ITC की बड़ी शेयरहोल्डिंग है, इसमें से कुछ हिस्सेदारी बेचकर BAT पैसे जुटा सकती है और उस पैसे से अपनी पूंजीगत जरूरतें पूरी कर सकती है. हम पिछले कुछ समय से जरूरी रेगुलेटरी प्रक्रिया को पूरा करने पर काम कर रहे हैं, जिससे शेयरहोल्डिंग को मोनेटाइज किया जा सके.

अपनी पोस्ट अर्निंग कॉल में BAT ने कहा था कि 25% हिस्सेदारी रणनीति के तहत किया जा रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक BAT 2.5 बिलियन डॉलर में 4% हिस्सेदारी बेचेगा और इससे नए शेयरों की सप्लाई का ओवरहैंग बना रहेगा. ब्रोकरेज ने कहा कि BAT को बड़े बाजारों में गिरती सिगरेट वॉल्यूम की वजह से चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है, खासतौर पर अमेरिका से जहां उसने हाल ही में 32 बिलियन डॉलर का राइट डाउन किया है.

ब्रोकरेज ने क्या कहा?

करीबी अवधि में सिगरेट वॉल्यूम की ग्रोथ में सुस्ती आने से जेफरीज के विश्लेषक भी चिंता में हैं. हाल ही में एनालिस्ट बैठक में ITC के चेयरमैन ने करीब 10 साल की ऊंचाई पर पहुंचने के बाद करीबी अवधि में सिगरेट की वॉल्यूम में कंसोलिडेशन की संभावना पर जोर दिया.

जेफरीज ने कहा कि Q3 में यही हुआ. सिगरेट वॉल्यूम में 2% YoY की गिरावट आई और इनपुट कॉस्ट की महंगाई से रूकावटें आ रही हैं. उसके मुताबिक करीबी अवधि में वॉल्यूम ग्रोथ कम रहने की उम्मीद है. ये 0-3% की रेंज में रहेगी. कुल मिलाकर FY25 में EPS ग्रोथ करीब 8% रहने की उम्मीद है.

दोपहर 2.05 बजे ITC का शेयर 0.55% की तेजी के साथ 417 रुपये पर मौजूद है. दिन में ये 2.33% की तेजी के साथ 424.2 रुपये पर पहुंच गया था. इसमें पिछले 12 महीनों में 11.48% का उछाल देखा गया है. अब तक दिन में शेयर का कुल ट्रेडेड वॉल्यूम इसके 30 दिन के औसत का 1.42 गुना रहा.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT