ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

G20 Summit 2023 Updates: सम्मेलन के लिए राजधानी तैयार, PM मोदी ने साझा किए विचार; पढ़ें शिखर सम्‍मेलन की पूरी अपडेट्स

PM मोदी ने कहा, 'हमारी भावना एक ऐसी दुनिया के निर्माण की है, जहां साझा लक्ष्य अलगाव की सोच को खत्म कर दे.'
NDTV Profit हिंदीNDTV Profit डेस्क
NDTV Profit हिंदी12:02 PM IST, 07 Sep 2023NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
NDTV Profit हिंदी
Follow us on Google NewsNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदीNDTV Profit हिंदी

G20 शिखर सम्मलेन की मेजबानी के लिए राजधानी दिल्ली पूरी तरह से तैयार है. G20 राष्‍ट्रों के नेताओं और विदेशी मेहमानों के स्‍वागत से लेकर पूरी सुरक्षा व्‍यवस्‍था तक, हर तरह की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है. इस सम्मेलन के लिए कई देशों के राष्‍ट्रप्रमुख दिल्‍ली पहुंच चुके हैं, जबकि कई देशों के नेता आज और कल पहुंचेंगे.

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (US President Joe Biden) अब शुक्रवार को दिल्‍ली पहुंचेंगे. व्हाइट हाउस की ओर से जारी प्रेस रिलीज के अनुसार, शुक्रवार की शाम वो दिल्ली पहुंच जाएंगे. पहले व्‍हाइट हाउस ने बताया था कि वो 7 सितंबर से ही भारत-दौरे पर रहेंगे.

PM मोदी का Op-Ed, साझा किए विचार

G20 समिट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ओपीनियन पीस (Op-Ed) लिखा है जिसमें उन्होंने कहा है, 'G-20 को लेकर हमारा एक ही मूल मंत्र है- वसुधैव कुटुंबकम, जहां वैश्विक कल्याण का लक्ष्य लेकर हम दुनिया के कोने-कोने तक पहुंचना चाहते हैं.'

भारत की डेमोग्राफी, डेमोक्रेसी, डाइवर्सिटी और डेवलपमेंट के बारे में किसी और से सुनना एक बात है और उसे प्रत्यक्ष रूप से अनुभव करना बिल्कुल अलग है. मुझे विश्वास है कि हमारे जी-20 प्रतिनिधि इसे स्वयं महसूस करेंगे. हमारी जी-20 अध्यक्षता विभाजन को पाटने, बाधाओं को दूर करने और सहयोग को गहरा करने का प्रयास करती है. हमारी भावना एक ऐसी दुनिया के निर्माण की है, जहां एकता हर मतभेद से ऊपर हो, जहां साझा लक्ष्य अलगाव की सोच को खत्म कर दे.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (अपने लेख में)

PM मोदी ने G20 शिखर सम्‍मेलन को लेकर अपनी वेबसाइट (narendramodi.in) पर एक लेख लिखा है. उन्‍होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर भी इस लेख को साझा किया है.

किस देश से कौन से नेता होंगे शामिल?

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के अलावा इस सिमट में कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो, ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सुनक, जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों, दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा, सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना शामिल होंगी.

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति युन सौक यौल, इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो, तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोग़ान, अर्जेंटीना के राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज, ब्राज़ील के राष्ट्रपति लुइज़ इनासियो लूला दा सिल्वा समेत कई देशों के नेता भी इस समिट में शामिल होंगे.

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की जगह पर चीन के प्रधानमंत्री ली कियांग चीन की ओर से शामिल होंगे. इटली की प्रधानमंत्री जॉर्जिया मेलोनी के आने की भी अधिकारिक पुष्टि नहीं है. वहीं रूस का प्रत‍िन‍िध‍ित्‍व राष्‍ट्रपति पुतिन की बजाय रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव करेंगे.

अमेरिकी राष्‍ट्रपति बाइडेन का पहला दौरा

व्हाइट हाउस ने बताया है कि जो बाइडेन अमेरिका से जर्मनी के रैम्स्टीन शहर जाएंगे और फिर वहां से भारत आएंगे. खास बात ये है कि राष्ट्रपति बनने के बाद जो बाइडेन का ये पहला भारत दौरा है. 9-10 सितंबर को वो G-20 शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे. उन्‍हें दिल्ली के ITC मौर्या होटल में ठहराया जाएगा. बाइडेन की सुरक्षा को लेकर अमेरिका की सीक्रेट सर्विस की टीम 3 दिन पहले ही दिल्‍ली आ चुकी है.

सुरक्षा ऐसी कि परिंदा भी पर मार न सके

जो बाइडेन एयरफोर्स वन (मिनी पेंटागन, जिसमें तमाम सुरक्षा उपकरण होते हैं) के विमान से दिल्ली पुहंचेंगे. वो सीक्रेट सर्विस के 300 कमांडो के सुरक्षा घेरे में रहेंगे. उनके काफिले में 55-60 गाड़ियां शामिल होंगी. दिल्‍ली में वो अपनी बीस्ट गाड़ी से सफर करेंगे, जिसके बारे में माना जाता है कि इसमें परमाणु हमले को भी विफल करने की क्षमता है. ITC मौर्या शेरेटन में हर फ्लोर पर सीक्रेट सर्विस कमांडो तैनात रहेंगे. होटल में उनके आने-जाने के लिए एक नई स्पेशल लिफ्ट भी लगाई गई है.

दिल्ली सज-धज कर है तैयार

G20 शिखर सम्मेलन के लिए दिल्ली को बहुत ही खूबसूरती से सजाया गया है. राजधानी की सभी अहम और ऐतिहासिक इमारतें रंग बिरंगी लाइट्स से जगमगा रही हैं. एयरपोर्ट से लेकर कुतुब मीनार, प्रगति मैदान, भारत मंडपम समेत दिल्ली के कई इलाकों की ख़ूबसूरती देखती ही बन रही है.

इस साज सज्जा ने दिल्ली की भव्यता और सुंदरता में चार चांद लगा रही हैं. इस समिट में कई तरह की प्रदर्शनियां भी लगाई जाएंगी.

दिल्ली में कई जगहों पर दीवारों पर ग्रैफिटी वर्क यानि कलाकारी भी की गई है. और इनमें भारतीय संस्कृति की झलक देखने को मिल रही है. दिल्ली की सभी अहम सड़कों पर खूबसूरत फाउंटेन, गमले और पेड़-पौधे लगाए गए हैं.

With inputs from NDTV, PTI and various other official social media handles.

NDTV Profit हिंदी
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT